ज्यादा से ज्यादा पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जुड़ जाएं समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री सूर्यवंशी ने दिए निर्देश ratlam news

रतलाम से संतोष तलोदिया की रिपोर्ट✒️✒️🖋️🖋️

रतलाम – कलेक्टर श्री नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी द्वारा सोमवार प्रातः समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में विद्युत वितरण कंपनी द्वारा जिले के आदिवासी क्षेत्रों में गड़बड़ बिजली आपूर्ति पर सख्त असंतोष व्यक्त करते हुए अधीक्षण यंत्री श्री सुरेश वर्मा को निर्देशित किया कि लापरवाही नहीं की जाए। सैलाना-बाजना क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति व्यवस्था में शिकायत प्राप्त हुई है। विद्युत आपूर्ति व्यवस्था में तत्काल सुधार कर रिपोर्ट देवे। कलेक्टर ने समीक्षा के दौरान जनजातीय कार्य विभाग में कार्यप्रणाली को चुस्त-दुरुस्त बनाने, व्यवस्था में सुधार के लिए प्रभारी सहायक आयुक्त सुश्री पारुल जैन से प्रभार वापस लेते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग श्री रजनीश सिन्हा को प्रभारी सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग का दायित्व सौंपने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर श्री एम.एल. आर्य, जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिड़े तथा जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर द्वारा जिले के विभिन्न विभागों द्वारा विगत अवधि में किए गए उल्लेखनीय कार्यों एवं उपलब्धियों की जानकारी विभागों से प्राप्त की जा रही है। जानकारी का संग्रहण जिला पंचायत में किया जा रहा है। समीक्षा में पाया गया कि किसान कल्याण, कृषि विकास विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, शिक्षा विभाग द्वारा उचित ढंग से जानकारी प्रेषित नहीं की गई है। इस पर संबंधित अधिकारियों के प्रति कलेक्टर द्वारा सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यप्रणाली में सुधार के निर्देश दिए गए। इस दौरान कलेक्टर द्वारा कृषि, शिक्षा, वन, रतलाम ग्रामीण तथा शहर तहसीलदारों को कार्य के प्रति जज्बा पैदा करने के निर्देश दिए गए। जनसुनवाई की लंबित शिकायतों के निराकरण के संदर्भ में कलेक्टर ने उन विभागों को अगले सप्ताह तक निराकरण शून्य करने के निर्देश दिए जिनके पास मात्र 10 शिकायतें हैं।

इस दौरान कलेक्टर ने रतलाम शहर में यातायात व्यवस्था की बदहाली पर चर्चा करते हुए निगम आयुक्त के प्रति सख्त असंतोष व्यक्त किया। उनको शहर की व्यवस्था में सुधार लाने के लिए जुट जाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने समीक्षा के दौरान समाचार पत्रों में मध्यान्ह भोजन संबंधी समाचार पर संज्ञान लेते हुए निर्देशित किया कि धामनोद स्कूल में मध्यान्ह भोजन के प्रभारी का 7 दिन का वेतन काटा जाए। भोजन बनाने वाले समूह को दी जाने वाली राशि से अनुपातिक रूप से खर्च काटा जाएगा। स्कूल के शिक्षकों का भी दो 2 दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए गए। जिला शिक्षा अधिकारी के प्रति नाराजगी व्यक्त की गई, उनसे पूछा गया कि आपका नियंत्रण क्यों नहीं है।

जिले में सड़कों पर ब्लैक स्पॉट समस्या का निराकरण शीघ्र होगा।

कलेक्टर ने बैठक में समीक्षा करते हुए एमपीआरडीसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि हाईवे पर क‌व हटाए जाएं, झाड़ियां साफ की जाए जिससे सहज रुप से आगे रास्ता दृष्टिगोचर हो सके। शोल्डर निर्माण के लिए भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने एमपीआरडीसी के अधिकारी श्री मूले को चेतावनी दी कि यदि आगे दुर्घटना हुई तो उनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।

जल जीवन मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल टंकी में रिसाव की खबर मीडिया में आने पर संज्ञान लेते हुए कलेक्टर ने जिले के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री पी.के. गोगादे को चेतावनी दी गई कि आगे से ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन नल जल योजना की टंकियों में रिसाव की शिकायत आई तो उनके विरुद्ध कार्रवाई करने में कतई देरी नहीं की जाएगी। जिन टंकियों में मरम्मत की आवश्यकता है, तत्काल की जाए और जो भी कार्य आवश्यक हैं पूर्ण किए जाएं। कलेक्टर ने कहा कि पूर्व में जल जीवन मिशन की कार्य की जांच के लिए गठित किए गए कार्यपालन यंत्री हाउसिंग बोर्ड, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा तथा कार्यपालन यंत्री जल संसाधन के संयुक्त दल ने प्रशासन के निर्देश अनुसार उचित ढंग से जांच नहीं की है जो की संदेहास्पद स्थिति है। अब पुनः उनकी जांच का अन्य दल द्वारा क्रॉस वेरिफिकेशन कराया जाएगा।

आधिकारिक रूप सेपात्र मतदाताओं को सूची में जोड़ा जाए

भारत निर्वाचन आयोग की मंशा अनुसार जिले में अधिकाधिक रूप से पात्र मतदाताओं को मतदाता सूची में जोड़ा जाए। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी द्वारा मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा के दौरान दिए गए। सोमवार को आयोजित उक्त बैठक में अपर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एम.एल. आर्य तथा एसडीएम, तहसीलदार आदि उपस्थित थे।

कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जिले में जनसंख्या के मान से ईपी रेशों 63 प्रतिशत अर्जित किया जाना है, सभी तहसीलदार औसतन 500 फॉर्म नाम जोड़ने के प्राप्त करें। जितने नाम सूची से हटते हैं उतने ही नाम जुड़े यह सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए बूथ लेवल अधिकारियों को सक्रिय करने 18 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके युवाओं तथा महिलाओं के नाम अधिकारी ग्रुप से सूची में जुड़वाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि उनके द्वारा अधिकारियों से प्रमाण पत्र प्राप्त किया जाएगा कि उनके क्षेत्र में 18 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके युवाओं के नाम मतदाता सूची में जुड़ चुके हैं।

कलेक्टर ने समीक्षा में पाया कि रतलाम ग्रामीण क्षेत्र में मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की स्थिति खराब है। इसी प्रकार जावरा तथा आलोट में भी स्थिति अच्छी नहीं पाई गई। रतलाम शहर में स्थिति बेहतर पाई गई। कलेक्टर ने संबंधित एसडीएम तथा तहसीलदारों को कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer