शरीर को स्वस्थ रखना जरूरी है क्योंकि स्वास्थ्य ही उत्तम धन है -प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री वाणी Ujjain news

उज्जैन 16 जनवरी। शरीर को स्वस्थ रखना जरूरी है क्योंकि स्वास्थ्य ही उत्तम धन है और स्वास्थ्य धन का संचय हमें सदैव प्रसन्नता और आत्मविश्वास प्रदान करता है जिससे हम अपने दैनिक कार्यों को सफलतापूर्वक अंजाम देते हैं। उक्त बात जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के प्रधान जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष श्री आरके वाणी ने जिला न्यायालय भवन में स्थित आरोग्य केन्द्र पर मकर सक्रांति पर अधिकारियों, कर्मचारीगण एवं अधिवक्तागण के लिये आयोजित किये गये विशेष होम्योपैथी चिकित्सा शिविर में कही। श्री वाणी ने बालों की समस्या, गंजापन एवं शरीर के जोड़ों के दर्द से निवारण हेतु आयोजित विशेष स्वास्थ्य परीक्षण एवं दवाई वितरण शिविर का शुभारंभ करते हुए कहा कि वर्तमान समय में होम्योपेथी की चिकित्सा में काफी उन्नती हुई है और होम्योपेथी में बालों की समस्या, गंजापन और जोड़ों का दर्द जैसी समस्याओं में होम्योपेथी दवाईयों का सकारात्मक प्रभाव देखने में आने लगा है। विशेष स्वास्थ्य शिविर इंदौर के होम्योपेथिक चिकित्सक डॉ.आशीष जैन एवं दवा इंडिया जेनेरिक फार्मेसी उज्जैन के श्री राकेश भार्गव एवं उनकी टीम के सहयोग से लगभग 100 लोगों ने अपनी समस्या के संबंध में उपचार प्राप्त कर निःशुल्क दवाईयां प्राप्त की। डॉ. जैन ने बताया कि बालों की समस्या के संबंध में उनके द्वारा कई वर्षों की रिसर्च से होम्योपैथी खाने की एवं बालो में लगाने की दवाई तैयार की गयी है जिसके बेहतर परिणाम रहे हैं और जिला न्यायालय में लाभार्थियों को इसका लाभ दिया गया है। जिला विधिक प्राधिकरण के सचिव श्री अरविंद कुमार जैन ने विशेष स्वास्थ्य परीक्षण एवं दवाई वितरण शिविर के आयोजन के संबंध में प्रकाश डाला और अतिथियों एवं चिकित्सक विशेषज्ञ का स्वागत कर आभार व्यक्त किया। उक्त शिविर में आरोग्य केन्द्र के डॉ.आशीष सक्सेना, सहित न्यायिक अधिकारी, अभियोजन अधिकारी, कर्मचारी, अधिवक्ता, पैरालीगल वॉलेंटियर आदि की उपस्थिति रही। कार्यक्रम एवं शिविर का संयोजन एवं संचालन जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री चन्द्रेश मण्डलोई ने किया।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer