दर्दनाक हादसा युवक की कमर का निचला हिस्सा ट्रोले में फंसा: मौत

करण चरोल_ बड़वाह

बलवाड़ा के पास ग्वालू घाट का है मामला

गणेश पिता रूप सिंह सोलंकी महू से भाई महेश सिंह सोलंकी के साथ मामा के लड़के की शादी में शामिल होने मुंदी गया था। उसने अपने मामा और भाई से कहा कि वह घर के लिए निकल रहा है। उन्होंने सुबह जाने का बोला, लेकिन वह जिद कर के निकल आया। वह ग्वालू घाट के मोड़ पर पहुंचा ही था कि इंदौर से आ रहे ट्रोला ने उसे टक्कर मार दी।

ड्राइवर मौके पर छोड़ कर भागा राहगीर ने दि सुचना।

ट्रोला गणेश और उसकी बाइक को कुछ दूरी तक घसीटते हुए ले गया। उसके बाद ट्रोला घाट पर झाड़ियों के सहारे लटक गया। उसके बाद ड्राइवर गणेश की हालत देखकर ड्राइवर मौके से भाग गया। गणेश की कमर का निचला हिस्सा ट्रोला के पिछले पहिए के नीचे दब गया था। गणेश को असहनीय दर्द हो रहा था। वह दर्द से चिल्ला रहा था। उसकी आवाज सुनकर राहगीर रुके और मौके पर पहुंचे। राहगीरों ने मदद की कोशिश की, लेकिन उसे बचा नहीं पाए। उसके बाद राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी।

गाडी नम्बर के आधार पर चालक और परिचालक दोनों की हो रही तलाश

बलवाड़ा थाना प्रभारी सीताराम चौहान ने बताया कि ट्रोला के चालक के खिलाफ 304 ए के तहत मामला दर्ज कर लिया है। चालक और परिचालक दोनों की तलाश की जा रही है। ओवरलोड ट्रक इंदौर से दाल लेकर महाराष्ट्र जा रहा था। ट्रोला के मालिक को भी पुलिस थाना बलवाड़ा बुलाया है।

पुलिस ने घटना की जानकारी भाई महेश को दी, तो वह शादी छोड़ बलवाड़ा के लिए निकल पड़ा। उसने पुलिस को बताया कि गणेश और मैं सुबह ही बाइक से महू से मुंदी मामा जी के लड़के की शादी में शामिल होने के लिए गए थे। गणेश को काम था, इसलिए वह रात में ही लौट आया। मैं वहीं शादी में रुक गया था। गणेश ब्रिजस्टोन कंपनी में काम कर परिवार को पालता था। उसके परिवार में पत्नी व दो छोटे बच्चे हैं।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer